Lifafe Song Lyrics in Hindi – Sippy Gill

0
28
lifafe lyrics song

Punjabi Old Song Lyrics Lifafe featuring Sippy Gill . This Beautiful Song Sung By Sippy Gill ft. Shipra Goyal. Music of This Song Composed By Laddi Gill While. Lifafe Song Lyricist is Sabi. Music Label of This Song is 10 MINT RECORDS.

Lifafe Song Lyrics Hindi
Singer: Sippy Gill ft. Shipra Goyal
Music Director: Laddi Gill
Lyrics: Sabi
Music Label: 10 Mint Records

हो हवा नाल उड़न लिफाफे बलिये
गिल जन्मा तो तेरा कदे तेरा डोलदा नही
अणपुने चह नाम गबरू दा दुनिया ते
ओये आंख दस दींदी मुँहे कदे बोलदा नही

हो खेड़ दा सी जट खून दियां होलियां
हो तेरे पीछे जाना दियां होइयाँ बोलियां
खेड़ दा सी जट खून दियां होलियां
तेरे पीछे जाना दियां होइयाँ बोलियां

नी साढ़े पांच फुटिये नी वेख फायर बोलदे
फिरनी ते उत्ते कनंदा होइयाँ पोलियां
ओ दस दी शमीरा नू तू गल खोल के
रिस्तेदारी चह हुँदा कादा पर्दा
जेहड़ा साड़े दोहां दे विचाले आ गया
हाल औदा होना ऐ गदाफी वर्गा
जेहड़ा साड़े दोहां दे विचाले आ गया
हाल औदा होना ऐ गदाफी वर्गा
का तों डर दीऐं वहम सारे दिलों कड़ दे
अढ़ी छेती नी असामे वांगूं जट्ट मरदा

पहला अंतरा
पहले दिन तेरीयां में तेरी मित्रां
डोल्दी नू रख तू दलेरी मित्रां

पहले दिन तेरीयां में तेरी मित्रां
डोल्दी नू रख तू दलेरी मित्रां
रब करें मेरी नब्ज खड़ जये
तेरी वल्लों आँख जे मैं फेरी मित्रां

रखदी ब्रैंड जुती वाली नोक ते
नखरा जट्टी दा पूरा सवा लख दा
मुंडे रेडवाइन मुंडे रेडवाइन
मुंडे रेडवाइन आंख के बलोन लग पये
लाल परी नाल ज्यादा नाश मेरी आँख दा
मुंडे रेडवाइन आंख के बलोन लग पये
लाल परी नाल ज्यादा नाश मेरी आँख दा
मुंडे रेडवाइन आंख के बलोन लग पये
लाल परी नाल ज्यादा नाश

दूसरा अंतरा
बस मेरे नाल रही रजामंद जट्टीये
खून कर दांगे नब्ज़ा दा बंद जट्टीये

बस मेरे नाल रही रजामंद जट्टीये
खून कर दांगे नब्ज़ा दा बंद जट्टीये
सभी ताज महल तेरे लिए बना दूँ चंडीगढ़
विच खेड़ी जिवे पानी उत्ते फूल तर दा
जेहड़ा साड़े दोहां दे विचाले आ गया
तैनू पता ही है जटा दा फिर
जेहड़ा साड़े दोहां दे विचाले आ गया
हाल औदा होना ऐ गदाफी वर्गा
का तों डर दीऐं वहम सारे दिलों कड़ दे
अढ़ी छेती नी असामे वांगूं जट्ट मरदा

तीसरा अंतरा
मेरा ऑउटफिट मसला ऐ आर पार दा
रेड नेल पेंट कईयां दे ब्लड थार दा

मेरा ऑउटफिट मसला ऐ आर पार दा
रेड नेल पेंट कईयां दे ब्लड थार दा
वे लंमिया कारां दे उत्ते में ना मरदी
ना ना ना
लंमिया कारां दे उत्ते में ना मरदी
मूल पैंदा ऐ करोड़ों लक्ज़री लख दा
मुंडे रेडवाइन आंख के बलोन लग पये
लाल परी नाल ज्यादा नाश मेरी आँख दा
मुंडे रेडवाइन आंख के बलोन लग पये
हाल औदा होना ऐ गदाफी वर्गा
मुंडे रेडवाइन
जेहड़ा साड़े दोहां दे विचाले आ गया
लाल परी नाल ज्यादा नाश मेरी आँख दा
अढ़ी छेती नी असामे वांगूं जट्ट मरदा

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here